Menu

 

English Edition

अवैध कटान को जाता गौवंश पुलिस ने पकड़ा, दो गायों की मौत, कई घायल Featured

राया : अवैध कटान को कन्टेनर में भरकर ले जाए जा रहे गौवंश को पकड़कर थाना पुलिस ने एक बड़ी सफलता हासिल की है। लेकिन, थाने के चेतक दस्ते के सिपाहियों ने ही पुलिस की सफलता पर पलीता फेरते हुए कन्टेनर के चालक और क्लीनर को मोटी रकम लेकर मौके से भगा दिया।

{googleAds}

<div style="float:left">


<!-- BEGIN JS TAG - agratoday_RevShare_Banner_300X250 < - DO NOT MODIFY -->
<SCRIPT SRC="http://ads.ozonemedia.com/ttj?id=1230418&cb=[CACHEBUSTER]&pubclick=[INSERT_CLICK_TAG]" TYPE="text/javascript"></SCRIPT>
<!-- END TAG -->

</div>

{/googleAds} कन्टेनर में बुरी तरह से भरी हुई 35 गायों में दो मृत और कई घायल अवस्था में पाई गईं। मृत गौवंश के साथ ही घायल एवं अन्य गायों को बरसाना की एक गौशाला में भेज दिया गया। यहां मृत गायों का अन्तिम संस्कार करा दिया गया, जबकि घायलों का उपचार किया जा रहा है।
थानाध्यक्ष के सीयूजी मोबाइल फोन पर वार्ता के दौरान एसआई राजवीर सिंह ने लेन-देन कर आरोपियों को भगा देने के आरोपों का खण्डन करते हुए कहा है कि ऐसे आरोप तो लगते ही रहते हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र राया के अन्तर्गत सुबह तड़के करीब 4:00 बजे कस्बा राया के मुख्य मार्ग से होकर एक कन्टेनर संख्या यूपी 22 टी 5466 गुजर रहा था, कि तभी इलाके में रात्रि गश्त कर रहे चेतक वन दस्ते के सिपाहियों ने थाने से मात्र 50 मीटर दूर ही स्थित श्रीजी मिष्ठान भण्डार पर कन्टेनर को रोक लिया और पूछताछ करने लगे। पुलिस द्वारा कन्टेनर को पीछे से खुलवाकर देखने पर बुरी तरह ठूस-ठूस कर भरा हुआ गौवंश मिला। इस पर पुलिस के सिपाहियों ने चालक और क्लीनर को पकड़ लिया।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चेतक दस्ते के सिपाहियों द्वारा चालक और क्लीनर को छोड़ने के लिए उनसे 50 हजार रुपये की मांग की गई। जिस पर दोनों ने 30 हजार रुपये में सौदा तय किया और तत्काल रकम सिपाहियों को देकर दोनों भाग निकले। इसके बाद दस्ते के सिपाहियों ने थाने में सुचना कर अन्य पुलिस को भी बुला लिया।

जब थानाध्यक्ष से पैसों के लेन-देन के बारे में हमारे स्थानीय संवाददाता से वार्ता हुई तो उन्होंने सिपाहियों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपियों से सिपाहियों के लेन-देन की वार्ता होना तो स्वीकार किया। लेकिन, लेन-देन होना स्वीकर नहीं किया। इससे इतना तो स्पष्ट है कि चाहे जो भी रहा हो लेकिन आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ने के बावजूद बचकर भाग निकले। पुलिस ने मामले में तीन अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया है।

back to top

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.