Menu

 


यूरोपीय संघ फिल्‍म महोत्‍सव 18 से, 11 शहरों में दिखाई जाएंगी 23 देशों की 24 नई फिल्‍में

यूरोपीय संघ फिल्‍म महोत्‍सव 18 से, 11 शहरों में दिखाई जाएंगी 23 देशों की 24 नई फिल्‍में

फिल्‍मनई दिल्ली : यूरोपीय सिनेमा पर प्रकाश डालने के लिए यूरोपीय संघ फिल्‍म महोत्‍सव (ईयूएफएफ) का शुभारंभ 18 जून को नई दिल्‍ली के सिरीफोर्ट ऑडिटोरियम में होगा।

Read in English: India To Host European Union Film Festival

इस वर्ष के फिल्‍म महोत्‍सव में 23 यूरोपीय सदस्‍य देशों की 24 नई यूरोपीय फिल्‍मों के चयन के साथ सिनेमा प्रेमियों के लिए कुछ असाधारण कहानियां होंगी। ईयूएफएफ का आयोजन यूरोपीय संघ और विभिन्‍न सिटी फिल्‍म क्‍लब में यूरोपीय संघ के सदस्‍य राष्‍ट्रों के दूतावासों के प्रतिनि‍धियों के साथ भागीदारी कर भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय के फिल्‍मोत्‍सव निदेशालय द्वारा किया गया है।

महोत्‍सव के दौरान 18 जून से 31 अगस्‍त तक नई दिल्‍ली, चेन्‍नई, पोर्ट ब्लेयर, पुद्दुचेरी, कोलकाता, जयपुर, विशाखापत्तनम, त्रिशुर, हैदराबाद और गोवा सहित देश के 11 शहरों में फिल्‍मों का प्रदर्शन किया जाएगा। विविधता को प्रदर्शित करती ईयूएफएफ ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, बुल्गारिया, क्रोएशिया, साइप्रस, चेक गणराज्‍य, डेनमार्क, एस्टोनिया, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, ग्रीस, हंगरी, इटली, लातविया, लिथुआनिया, लक्समबर्ग, नीदरलैंड, पोलैंड, पुर्तगाल, स्लोवाकिया, स्पेन और स्वीडन की फिल्‍में दिखाई जाएंगी।

इस वर्ष के विशेष आकर्षण के रूप में दर्शकों, छात्रों और फिल्‍म निर्माताओं को फिल्‍म महोत्‍सव के लिए भारत आने वाली फिल्‍मी हस्‍तियों कैटरीना क्रनाकोवा (स्लोवाकियाई निर्माता), पाउला ऑर्टिज़ (स्पेनिश निर्देशक), साल्वाटोर एलोका (इटली के निर्देशक), यानीस कोरिस (ग्रीक निर्देशक), डगलस बॉसवेल (बेल्जियम के निर्देशक) और एडम फ़ेकेटे (हंगरी के अभिनेता) से मुलाकात करने का मौका मिलेगा।

23वें यूरोपीय फिल्‍म महोत्‍सव में साइबर जगत में जीवन आने से वास्‍तविकता धूमिल होने, नायक के विपरित मसखरे की भूमिका का नाटक करने से मुक्ति का अवसर मिलने, असंतुष्‍ट विवाह प्रथाओं में फंसे पुरुष द्वारा अपनी स्वतंत्रता के लिए अपनाएं असामान्य तरीके, एक संगीत आलोचक और उसके पिता द्वारा एक आकर्षक मनोचिकित्सक का ध्यान आकर्षित करने के लिए प्रतिस्पर्धा करने पर आलोचक का अपने पिता से दुखी होना और रोमांचक यात्रा के दौरान तीन कुर्दिश भाई-बहनों के अचानक एक-दूसरे के करीब आने की कुछ असाधारण कहानियां हैं। ये 2018 के यूरोपीय संघ फिल्‍म महोत्‍सव के कुछ अनोखे विषय हैं।

आज के यूरोप की बेहतरीन और दिलचस्‍प फिल्‍मों का चयन 18 से 24 जून तक नई दिल्‍ली में यूरोपीय संघ फिल्‍म महोत्‍सव 2018 के दौरान प्रदर्शित करने के लिए किया गया है। केन्‍द्रीय सूचना और प्रसारण राज्‍य मंत्री राज्‍यवर्धन सिंह राठौर 18 जून को फिल्‍म महोत्‍सव का उद्घाटन करेंगे।

इस वर्ष महोत्‍सव में उद्घाटन फिल्‍म ‘लिटिल हार्बर’ की निर्माता स्‍लोवाकिया की कैटरीना क्रनाकोवा भी उद्घाटन समारोह में शामिल होंगी। पाउला ऑर्टिज़ (स्पेनिश निर्देशक), साल्वाटोर एलोका (इटली के निर्देशक) अपनी फिल्‍मों के प्रदर्शन के दौरान मौजूद रहेंगे।

पुरस्‍कार से सम्‍मानित फिल्‍म लिटिल हार्बर उन दो बच्‍चों की सत्‍य घटना से प्रेरित है, जिनके भोले-भाले खेल से उनका जीवन हमेशा के लिए बदल गया। यह ऐसे बच्‍चों की कहानी है जो घर की बजाय सड़कों पर अधिक सुरक्षित महसूस करते हैं। 10 वर्षीय जार्का अपनी मां के साथ रहता है, जो अभी मां बनने को तैयार नहीं है। वह अपना अधिकतर समय अकेले बिताती है। प्रेम और संपूर्ण सुखद परिवार बनाने की चाहत में वह दो बच्‍चों की मां बन जाती है।

ईयूएफएफ में प्रदर्शित की जाने वाली अन्य फिल्‍में हैं : द मैजिक ऑफ चिल्‍ड्रन (ऑस्ट्रिया); लेबिरिंथस (बेल्जियम); विक्टोरिया (बुल्गारिया); काउबॉयज (क्रोएशिया); बॉय ऑन द ब्रि‍ज (साइप्रस); टाइगर थ्योरी/तिओरी टाइग्रा (चेक गणराज्य); वॉक विद मी/द स्टैंडहाफ्टिज (डेनमार्क); लैंड ऑफ माइन/अंडर सैंडेट (डेनमार्क); द मैन हू लुक्स लाइक मी/मिनू नाओगा ओनु (एस्टोनिया); अनएक्‍सपैक्‍टेड जर्नी (फिनलैंड); 9 मंथ स्ट्रेच/9 मोइस फर्म (फ्रांस); हाउस विदआउट रूफ/हौस ओह डच (जर्मनी); किसिंग?/ओन्तोस फिलितोन्‍ते? (यूनान); किल्‍स ऑन व्‍हील्स (हंगरी); तरांता ऑन द रोड (इटली); द लेसन/इज्‍लैदुमा गैड्स (लातविया); वेन यू वैक अप (लिथुआनिया); ए वेडिंग/नोसेस (लक्समबर्ग); लेटर फॉर द किंग (नीदरलैंड); ए ब्रेव बंच (पोलैंड); मदर नोज बेस्‍ट (पुर्तगाल); लिटिल हार्बर/पिआता लोद (स्लोवाकिया); द ब्राइड/ ला नोविया (स्पेन) और इटरनल समर (स्वीडन)।

back to top

loading...
Bookmaker with best odds http://wbetting.co.uk review site.